आज से सरकार ने सस्ते किये सोने के दाम,अब इस रेट में मिलेगा सोना

gold price down

हफ्ते के चौथे कारोबारी दिन गुरुवार 6 जनवरी को सर्राफा बाजार में गिरावट का दौर रहा। बुलियन मार्केट में सोने का भाव 48000 रुपये के नीचे चला गया है। सोना आज 303 रुपये गिरकर 47,847 रुपये पर कारोबार करता नजर आया। वहीं, चांदी महंगी होकर 60,846रुपये किलो पर खुली। आज IBJA की वेबसाइट पर यह रहे सोने के भाव..

24 कैरेट सोने का भाव 47,847 रुपये पर खुला। कल बुधवार को सर्राफा बाजार में सोने का दाम 48,150 रुपये पर बंद हुआ। आज दाम में 303 रुपये की गिरावट आई। 23 कैरेट गोल्ड की औसत कीमत 47,655 रुपये रही। अब 22 कैरेट सोने का हाजिर भाव 43,838 रुपये रहा। वहीं, 18 कैरेट का भाव 35,855 रुपये पर पहुंच गया। आज 14 कैरेट गोल्ड का रेट 27,990 रुपये रहा।

चांदी का रेट

सर्राफा बाजार में एक किलोग्राम चांदी का रेट 60,846 रुपये रहा। चांदी का रेट कल 61,896 रुपये पर बंद हुआ। चांदी में 1050 रुपये की गिरावट देखने को मिली।

क्यों आई गिरावट

एचडीएफसी सिक्यूरिटीज में वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा कि अमेरिका की अर्थव्यवस्था में उम्मीद से बेहतर सुधार दिखाई देने से सोने के दाम में शुरुआत में आई बढ़त जाती रही। अमेरिका के बॉन्ड बाजार में प्रतिफल प्राप्ति बढ़ने से भी सोने के दाम में गिरावट रही। मोतिलाल ओसवाल फाइनेंशियल सविर्सिज में जिंस शोध के उपाध्यक्ष नवनीत दमाणी ने कहा कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था के सकारात्मक आंकड़े आने और अमेरिकी बॉन्ड में प्राप्ति ऊंची होने से पीली धातु को लेकर आकर्षण कम हो गया।

कमजोर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों को घटाया जिससे वायदा कारोबार में शुक्रवार को चांदी की कीमत 55 रुपये की गिरावट के साथ 68,582 रुपये प्रति किलो रह गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में चांदी के जून वायदा अनुबंध का भाव 55 रुपये यानी 0.08 प्रतिशत की गिरावट के साथ 68,582 रुपये प्रति किलो रह गया। इस वायदा अनुबंध में 8,513 लॉट के लिए सौदे किये गये। वैश्विक स्तर पर, न्यूयार्क में चांदी का भाव 0.26 प्रतिशत की गिरावट के साथ 26.05 डालर प्रति औंस रह गया।

भारत में सोने की मांग जनवरी- मार्च 2021 तिमाही के दौरान इससे पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले 37 प्रतिशत बढ़कर 140 टन पर पहुंच गई। इस दौरान कोविड-19 से जुड़ी सख्ती में राहत मिलने, सोने के दाम नरम पड़ने और दबी मांग निकलने से इस दौरान मांग में तेजी रही। विश्व स्वर्ण परिषद (डब्ल्यूजीसी) ने यह कहा है। डब्ल्यूजीसी के आंकड़ों के मुताबिक वर्ष 2020 की पहली तिमाही में कुल मिलाकर सोने की मांग 102 टन रही थी। मूल्य के लिहाज से सोने की मांग पहली तिमाही में 57 प्रतिशत बढ़कर 58,800 करोड़ रुपये तक पहुंच गई। जो कि एक साल पहले इसी तिमाही में 37,580 करोड़ रुपये रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top